March 2016

चतुर कूटनीति का एक वर्षः मील का पत्थर 2015 (विदेश मंत्रालय की प्रमुख उपलब्धियां)

इस वर्ष ने बड़े दायरे में सोचने, साहसी दूरदर्शिता व त्वरित कार्यवाही के जरिये 'भारतीय कहानी' को नई ऊर्जा दी है। इस प्रक्रिया में भारत ने खुद को हर तरह की बहसों, जिसमें वैश्विक प्रशासकीय सुधार, जलवायु परिवर्तन, परा-राष्ट्रीय आंतकवाद व साइबर सुरक्षा भी शामिल हैं, को आकार देने में अपने आप को महत्वपूर्ण हिस्सेदार बनाया है।

वन बेल्ट वन रोड’ (ओबीओआर) / नया सिल्क रूट : आर्थिक और सामरिक पक्ष

०-० दुनिया में होने वाले कुल व्यापार का 90 फ़ीसदी हिस्सा समुद्री रास्तों से होकर जाता है और इस तरह मालवाहक पोत एक देश से दूसरे देश को जाते हैं.
उदाहरण के लिए मध्य पूर्व से चीन तक तेल ले जाने वाला पोत पारंपरिक समुद्री रास्तों का इस्तेमाल करता है.

-०-० यह एक द्विपक्षीय आदान प्रदान होता है जिसमें बहुत कम ही ऐसा होता है कि रास्ते में आने वाले किसी तीसरे देश को फ़ायदा या नुक़सान पहुंचे.

शनि शिंगणापुर मंदिर विवाद: आस्था का हक

- अहमदनगर में शनि शिंगणापुर मंदिर के गर्भगृह में परंपरा के इतर महिलाओं की पूजा-अर्चना के अधिकार पर विवाद जारी है।

** सर्वविदित है कि देश में जाति, धर्म व लिंगभेद से परे समता का अधिकार संविधान ने दिया है। महिलाओं ने देश में कई यूरोपीय देशों से पहले सामाजिक व लोकतांत्रिक अधिकार हासिल किये। 
- देश के प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति के रूप में महिलाओं की शानदार पारी का जिक्र करने की अावश्यकता नहीं है। *****जहां तक धर्म में सामाजिक न्याय की बात है तो उसका निर्धारण सदियों से चली आ रही धार्मिक मान्यताओं और परंपराओं के आधार पर निर्धारित होता है।

पेट्रोलियम तेल की कीमतों में शुरू हुई गिरावट अभी भी जारी है। पेट्रोलियम तेल की भू राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करते हुए तेल के सस्ते होने के कारण एवं सस्ते हुए तेल से उत्पन्न हो सकने वाले दुष्प्रभाव को बताइये।

जून, 2014 से कच्‍चे तेल की कीमतों में शुरू हुई गिरावट अभी भी जारी है। अनुमान था कि 40 डॉलर प्रति बैरल तक जाने के बाद कच्‍चा तेल फिर से उठना शुरू करेगा, लेकिन अब वह इस मनोवैज्ञानिक सीमा को भी पार कर गया है। अब तो इसके 20 डॉलर तक गिरने के अनुमान व्‍यक्‍त किए जा रहे हैं। 
- सस्‍ता कच्‍चा तेल भले ही तेल आयातक देशों का खजाना भर रहा हो लेकिन अब इसके कई पर्यावरणीय व आर्थिक दुष्‍परिणाम निकलने की संभावनाएं व्‍यक्‍त की जाने लगी हैं।

अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव प्रक्रिया (American President Electoral System)

=>"इस तरह होता है अमेरिकी राष्‍ट्रपति का चुनाव"

**अमेरिका की पहचान दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र के रूप में होती है......आइए जानें, कैसे होता है अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव.... बेहद आसान और सरल शब्दों में 

 अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव की प्रक्रिया भारत के मुकाबले काफी पेचीदा और लंबी है। ऐसे में यह समझना जरूरी है कि दुनिया का सबसे ‘ताकतवर’ माना जाने वाला मुल्क अपने राष्ट्रपति का चुनाव कैसे करता है।

नेट न्यूट्रैलिटी पर ट्राई की मुहर: आजाद ही रहेगा इंटरनेट

दूरसंचार नियामक ट्राई ने नेट न्यूट्रैलिटी के पक्ष में फैसला सुनाते हुए फेसबुक की 'फ्री बेसिक्स' और एयरटेल 'एयरटेस जीरो' जैसी फ्री इंटरनेट योजना को बड़ा झटका दिया है। ट्राई ने इन योजनाओं को नकार दिया है। 
** ट्राई ने भेदभाव आधारित कीमत तय करने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। इस तरह अब फेसबुक, एयरटेल या रिलायंस कम्युनिकेशंस फ्री इंटरनेट के आधार पर ग्राहकों से भेदभाव नहीं कर पाएंगी।

चीन - पाकिस्तान सम्बन्ध और भारत

पाकिस्तान के साथ चीन का संबंध सदैव ही विशिष्ट रहा है और द्विपक्षीय रिश्तों की सामरिक नींव 1950 के उत्तरार्द्ध में ही पड़ गई थी जब चीन और भारत के संबंधों में गिरावट की शुरुआत हुई। 
- भारत से प्रतिकूल रिश्तों के कारण पाकिस्तान की भौगोलिक स्थिति को बीजिंग के लिए एक मूल्यवान दीर्घकालिक निवेश माना गया। भारत-चीन संबंधों में असहज स्थिति के कारण अक्टूबर 1962 में युद्ध भड़क गया था।