निबंध का दर्शन (Philosophy of The Essay)

संघ लोक सेवा/ राज्य लोक सेवा परीक्षा के प्रत्येक प्रश्नपत्र का कुछ विशिष्ट उद्देश्य होता है।

UPSC/ PSC हर प्रश्नपत्र के द्वारा अभ्यर्थी की कुछ विशिष्ट योग्यता का परखने का प्रयास करती है। उदाहरण के तौर पर सामान्य अध्ययन में हमारे आस -पास घटित हो रही घटनाओं के प्रति रूचि एवं जागरूकता को परखा जाता है। वैकल्पिक विषय ज्ञान की परीक्षा है वहीं सामान्य अध्ययन प्रबंधन की।

→ चूंकि निबंध में अत्यधिक आजादी दी गई हैः

ESSAY 20 August 2017

1. सकल घरेलु उत्पाद बनाम सकल Happiness सूचकांक 

GDP V/S GHI

 

 

2. महिला सशक्तिकरण कुंजी उनके अपने हाथ में है न सरकार के

Women Empowerment key lies in their own hand and not with Government

ESSAY 30 July 2017

1. भारत के सामने रोजगार सृजन की चुनौतियां 

Job Creation challenge in front of India

 

2. सोशल मीडिया : चुनौतियां और अवसर 

social Media: Challenges & Opportunity

 

ESSAY 23 July 2017

1.Regulation is not the problem but regulatory misconduct is

नियमन समस्या नहीं है, लेकिन नियामक कदाचार है

 

2. Obsession with cashless transaction: Likely benefit & Challenges

कैशलेस लेनदेन के जुनून: संभवतः लाभ और चुनौतियां

ESSAY 9 July 2017

 

1.What kind of crisis India is facing moral or economic?

भारत किस तरह का संकटका सामना कर रहा है  नैतिक या आर्थिक ?

 

2.  Crisis in Indian Judiciary

भारतीय न्यायपालिका में संकट

ESSAY 2 July 2017

1. क्या भारतीय सिनेमा सामाजिक वास्तविकता को दिखाता है 

Does the Indian cinema refelact social reality

 

 

2. महिलाओं के प्रति सभी मुसीबतों के लिए मानसिकता जिम्मेदार है 

 Attitude is responsible for all ills against women

विकास का मौजूदा मॉडल : मानव जीवन और पर्यावरण के लिए कितना बेहतर !

  • विकास के अर्थ बहुआयामी धारणाओं से जुड़ते हैं, लेकिन वर्तमान युग में यह धारणा एक छोटे से दायरे में सिमट कर रह गई है.
  •  विश्व बैंक के अनुसार स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, पानी वगैरह जैसी मूलभूत सुविधाएं समान रूप से नागरिकों को उपलब्ध कराना ही विकास है.
  •  वास्तव में, विकास का उद्देश्य मानव के जीवन स्तर को बेहतर करना ही होता है, लेकिन उसके मूल में प्रकृति का भी साथ होता है क्योंकि हमारा पर्यावरण स्वच्छ रहेगा तभी हमारा स्वास्थ्य भी बेहतर रह सकेगा.