स्वच्छता के विस्तार के लिए सीवेज कारोबार पर हो नया विचार

#Business_Standard_Editorial

शहरी साफ-सफाई काफी महंगी रही आई है। इसके लिए पहले तो पानी चाहिए। पानी को जितनी दूर तक ढोना पड़ता है उसकी लागत उतनी ही ज्यादा होती जाती है। गंदगी साफ करने के लिए बहुत अधिक पानी चाहिए। अगले चरण में ऐसी भूमिगत व्यवस्था अपनानी होगी जहां हर घर को आपस में जोड़ दिया जाए। गंदे पानी को दूर से दूर स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट तक पहुंचाया जाए ताकि उसे निस्तारण के पहले साफ किया जा सके। लेकिन इतना भी पर्याप्त नहीं है।

सहयोग का सफर: भारत -बांग्लादेश

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की भारत यात्रा और इस अवसर पर दोनों देशों के बीच हुए समझौतों का दूरगामी महत्त्व है। जिन बाईस समझौतों पर दोनों पक्षों ने हस्ताक्षर किए उनमें सैन्य सामानों की खरीद, असैन्य परमाणु समझौता, बस-सेवा, टेÑन सेवा और बिजली की आपूर्ति जैसे बिंदु शामिल हैं।

समझौतों का महत्त्व

बेहतर स्वास्थ्य की नीति

  • नई राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति में मरीजों के हित को केंद्रीय स्थान दिया गया है। इसमें  अस्पतालों की जवाबदेही तय करने और मरीजों की शिकायतों पर गौर करने के लिए पंचाट के गठन की बात भी कही गयी है। स्पष्टत: इन बातों से देश के लोगों में नई उम्मीदें जगेंगी।

- उल्लेखनीय है कि नई नीति का उद्देश्य सभी नागरिकों को सुनिश्चित स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना बताया गया है। भारत में स्वतंत्रता के बाद से सरकारी नीतियों में स्वास्थ्य एवं शिक्षा को अपेक्षित महत्व नहीं मिला। नतीजतन, इन दोनों मोर्चों पर देश पिछड़ी अवस्था में है।