शिक्षा तंत्र की कमजोर कड़ियां

#Editorial_Jansatta

In news:

अलग-अलग राज्यों के शिक्षा बोर्डों के तहत आधे-अधूरे संसाधनों के बल पर दी जाने वाली शिक्षा और कराई जाने वाली परीक्षा कुछ वैसे ही दृश्य पेश करती है, जैसे फिलहाल बिहार विद्यालय परीक्षा बोर्ड (बीएसइबी) को लेकर सामने आए हैं।

Ø  एक ओर तो इस परीक्षा में चौंसठ फीसद छात्र फेल हो गए- जिस पर परीक्षार्थियों ने काफी हंगामा खड़ा किया है।

 छोटे शहरों की बड़ी समस्याएं

#Editorial_live_Hindustan

Regional inequality in India:

भले ही पिछले दो-ढाई दशक में भारत ने तेजी से तरक्की की है, मगर यहां स्थानीय (स्थान या क्षेत्रवार) असमानताएं भी काफी बढ़ी हैं। भारत का विकास दरअसल बडे़ शहरों तक सिमटकर रह गया है। यह तस्वीर चीन और अमेरिका से बिल्कुल जुदा है, जहां मंझोले शहर विकास व रोजगार सृजन के नए सूत्रधार बने।

Big question

पशु कल्याण नई नियमावली की अधिसूचना और संघीय ढांचा

पशुओं के प्रति होने वाली क्रूरता को रोकने का कानून 1960 में ही बन गया था। पर इस कानून के तहत जैसी नियमावली अब जाकर जारी की गई है, पहले की किसी सरकार ने उसकी जरूरत महसूस नहीं की।

विवाद :

बीते हफ्ते पर्यावरण मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए नियमों को लेकर विवाद शुरू हो गया है, जिसे अस्वाभाविक नहीं कहा जा सकता। दरअसल, इन नियमों को बनाना जितना आसान है, इन्हें लागू करना उतना ही मुश्किल।

सामरिक साझेदारी नीति : विश्लेषण

#Business_standard Editorial

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने रक्षा मंत्रालय की सामरिक साझेदारी नीति को मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही उन छह भारतीय कंपनियों के चयन का मार्ग प्रशस्त हो गया है जो विदेशी निर्माता कंपनियों के साथ मिलकर हेलीकॉप्टर, विमान, पनडुब्बी और हथियारबंद वाहन बनाने का काम करेंगी। इस नीति का ब्योरा सार्वजनिक कर उसे रक्षा खरीद नीति 2016 में शामिल किया जाना है।

भारतीय आईटी सेक्टर का संकट अर्थव्यवस्था के दूसरे क्षेत्रों के लिए भी बड़ी चेतावनी

#Editorial Indian Express

IT Sector in Crisis

मेक इन इंडिया कार्यक्रम ठीक उसी क्षेत्र में लड़खड़ाता हुआ दिख रहा है जिसके बारे में यह अनुमान लगाया जाता था कि वह भविष्य की चुनौतियों का सामना सबसे बेहतर तरीके से कर सकता है. भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र (आईटी सेक्टर) के विकास की इमारत मुख्य रूप से निजी कंपनियों की बुनियाद पर खड़ी है. लेकिन इस वक्त इन कंपनियों के हजारों कर्मचारियों पर छंटनी का खतरा मंडरा रहा है.

Report on IT Jobs:

स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 : देशभर में सबसे साफ शहर है मध्य प्रदेश का इंदौर, सबसे गंदा है यूपी का गोंडा

◆ मध्य प्रदेश का इंदौर देश का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है, जबकि साफ-सुथरे शहरों की सूची में दूसरा स्थान भी इसी राज्य की राजधानी भोपाल ने हासिल किया है.
◆ देश में सबसे गंदे या अस्वच्छ शहर का दर्जा उत्तर प्रदेश के गोंडा को दिया गया है.

 'स्वच्छ सर्वेक्षण 2017'

- सबसे साफ 25 शहरों की सूची जारी करते हुए बताया कि कुल 434 शहरों में यह सर्वेक्षण किया गया था.
♂ 434 शहरों की स्वच्छता रैंकिंग में गोंडा के बाद दूसरा सबसे अस्वच्छ शहर महाराष्ट्र का भुसावल है.

विश्व पर्यटन सूची में 20 स्थान की छलांग लगाकर भारत 40वें नंबर पर

  • विश्व पर्यटन संगठन की रैंकिंग के मुताबिक, वैश्विक स्तर पर भारत 40वें नंबर पर है। भारत ने पर्यटन सूचकांक में 12 फीसद की बढ़ोतरी की है।
  • विश्व पर्यटन सूची में भारत ने 20, जबकि पर्यटकों की सुरक्षा और बचाव सूची में 15 स्थान की छलांग लगाई है।"
  • राष्ट्रीय कौशल विकास निगम की ओर से यात्रा, पर्यटन व आतिथ्य क्षेत्र में मानव संसाधन की जरूरत को लेकर तैयार रिपोर्ट का हवाला दिया।
  • 2022 तक पर्यटन क्षेत्र में काम कर रहे लोगों की संख्या 1.3 करोड़ से ज्यादा होगी।