चीन ने बनाया दुनिया का पहला सोलर हाईवे, बिजली पैदा करेगा और कारें भी होंगी चार्ज

चीन ने दुनिया का पहला सोलर हाईवे बनाया है। एक किलोमीटर लंबा ये हाईवे बिजली बनाएगा, सर्दियों के मौसम में जमी बर्फ को पिघलाएगा। इसके अलावा आने वाले वक्त में ये हाईवे इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को चार्ज भी करेगा। ईस्टर्न चाइना में शेनडॉन्ग प्रॉविंस की राजधानी जिनान में बने इस हाईवे का टेस्ट सेक्शन ट्रैफिक के लिए खोल दिया गया है।

सौर अभियान: आदित्य-एल-1

Aditya L1 Mission
    भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) प्रथम सौर अभियान, आदित्य-एल-1 शुरू करने की योजना बना रहा है।
    आदित्य-एल-1 अभियान का उद्देश्य सूर्य-पृथ्वी के इर्द-गिर्द कक्षा से लेंग्रेगियन प्वाइंट (एल-1) जो पृथ्वी से लगभग 1.5 मिलियन किलोमीटर है, सूर्य का अध्ययन करना है। यह फोटो स्फियर, क्रोमोस्पियर तथा सूर्य की बाहरी परत, विभिन्न वेवबैंडस में प्रभामंडल के अध्ययन के लिए सात अंतरिक्ष उपकरण ले जाएगा।

देश के उद्योगों में बढ़ा आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का प्रयोग

देश में AI को न सिर्फ बड़ी कंपनियां अपना रही हैं, बल्कि छोटी और मझोली कंपनियां भी इसका प्रयोग कर रही हैं। 

Artificial Intelligence and chat bot are on the rise

बात जब ऐसी तकनीक की आती है, जो जमे-जमाए उद्योग में तूफान मचा दे, तो आनेवाले सालों में कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) की तूती बोलने वाली है और भारतीय कारोबारियों ने विभिन्न उद्योगों में रियल टाइम यूजर्स एक्सपीरिएंस (वास्तविक समय में प्रयोक्ता के अनुभव) को बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल शुरू भी कर दिया है।

मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में भारत फिसड्डी, शीर्ष सौ देशों में भी शामिल नहीं

India ranks 109 in mobile internet speed and 76 in fixed broadband speed in whole world

मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में दुनिया में भारत का स्थान 109वां है तथा फिक्स ब्रॉडबैंड के मामले में 76वां है, जबकि इसमें 15 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। ऊकला के नवंबर के स्पीडटेस्ट वैश्विक सूचकांक से यह जानकारी मिली है।

सोमवार को यहां जारी एक बयान में कहा गया, “2017 की शुरुआत में, भारत में औसत मोबाइल डाउनलोड स्पीड 7.65 एमबीपीएस था, लेकिन साल के अंत तक यह बढ़कर 8.80 फीसदी हो गया, जोकि 15 फीसदी की बढ़ोतरी है।”

टेस्ला द्वारा दुनिया की सबसे बड़ी बैटरी चालू

ऑस्ट्रेलिया में दुनिया की सबसे बड़ी लिथियम ऑयन बैटरी का संचालन शुरू हो गया है. इसके साथ तकनीक क्षेत्र की जानी-मानी कंपनी टेस्ला इंक अपनी अनोखी शर्त पूरी करने में सफल हो गई है

दूरसंचार नियामक द्वारा नेट न्यूट्रैलिटी का पूरी तरह समर्थन

दूरसंचार नियामक टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने नेट न्यूट्रैलिटी (इंटरनेट की निरपेक्षता) का पूरी तरह समर्थन किया है. एक साल से ज्यादा समय तक विचार-विमर्श करने के बाद ट्राई ने नेट न्यूट्रैलिटी पर अपनी सिफारिशें जारी की हैं.