मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का काम शुरू ; 2023 के अंत तक ट्रेन सेवाएं प्रारंभ होने की संभावना

- मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का कुछ हिस्सा समुद्र के नीचे से गुजरेगा। समुद्र के अंदर सुरंग बनाने का कारण ठाणे और विरार के बीच हरे-भरे इलाके के पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाना है। इसके लिए जमीन की ड्रिलिंग कर मिट्टी की जांच का काम शुरू हो गया है।

- साल के अंत तक परियोजना का निर्माण कार्य शुरू होने की उम्मीद है। पिछले दिनो नीति आयोग ने मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना की प्रगति की समीक्षा की। आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में जापानी अधिकारियों ने भी शिरकत की।

भारत में टीकों की निगरानी व्यवस्था पर डब्ल्यूएचओ ने लगाई मुहर

In news:

भारत में टीकों पर निगरानी की व्यवस्था पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अपनी मुहर लगा दी है। डब्ल्यूएचओ की अंतरराष्ट्रीय टीम ने ग्लोबल बेंचमार्किग टूल के आधार पर पांच दिन की समीक्षा के बाद इसे अंतरराष्ट्रीय मानकों के मुताबिक सही पाया है।

जनवरी 2017 में देश के निर्यात में 4 फीसदी वृद्धि

  • देश के निर्यात में लगातार पांचवें महीने वृद्धि हुई है और यह जनवरी 2017 में 22.12 अरब डॉलर का रहा, जो जनवरी 2015 के 21.20 अरब डॉलर से 4.32 प्रतिशत अधिक है।
  • आधिकारिक आंकड़े के अनुसार, समीक्षाधीन महीने में आयात 31.96 अरब डॉलर का रहा, जो पिछले वर्ष की जनवरी के 28.87 अरब डॉलर के आयात से 10.70 प्रतिशत अधिक है।
  • जनवरी में व्यापार घाटा 9.84 अरब डॉलर पर रहा, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान व्यापार घाटा 7.67 अरब डॉलर रहा था। केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय की ओर से यह

आर्थिक स्वतंत्रता सूचकांक में भारत का 143वां स्थान

आर्थिक स्वतंत्रता के एक वार्षिक सूचकांक में भारत का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है और यह 143वें स्थान पर रहा है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 5 बैंकों का मर्जर, सुधरेगा 'कैश फ्लो

  • केन्द्र सरकार ने देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) में देशभर से 5 सहायक बैंकों का विलय करने का फैसला लिया है.
  • इस फैसले से अब स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ ट्रैवेनकोर के अधीन हो जाएंगे.
  • पांच सहायक बैंकों के विलय से केन्द्र सरकार को उम्मीद है कि इससे देश की बैंकिंग व्यवस्था मजबूत होगी.

नकदी-मुक्त अर्थव्यवस्था अव्यवस्था भी बन सकती है

भारत जैसे विशाल देश में, जहां एक-तिहाई जनता अब भी निरक्षर है और 90 प्रतिशत से अधिक लेनदेन नक़द-नारायण से होता है, नोटबंदी के बाद की   क्रांति क्या बिना किसी भ्रांति के उस तेज़ी से हो सकती है, जिसकी सरकार अपेक्षा कर रही है?

पश्चिम से सबक

पांच साल में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था होगा भारत: अमेरिकी थिंक टैंक

अमेरिका के एक शीर्ष थिंक टैंक ने कहा है कि अगले पांच साल में भारत दुनिया की सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन जाएगा। इस थिंक टैंक का कहना है कि पाकिस्तान भारत की आर्थिक ताकत का मुकाबला करने में सक्षम नहीं है, इसलिए वह संतुलन के दिखावे की कोशिश में 'दूसरे तरीकों' की तलाश करेगा।

क्या कहती है रिपोर्ट

डिजिटल इंडिया'पर प्रश्न चिन्ह : हर दूसरे दिन एक सरकारी वेबसाइट हुई 'हैक'

  • केन्द्रीय गृह मंत्रालय के अनुसार साल 2014 में 155 और 2013 में 189 सरकारी वेबसाइटें hack हुईं.
  • डिजिटल इंडिया के लिए ज़ोर देने वाली केंद्र सरकार ने लोकसभा में ये बात मानी है कि पिछले एक साल में सरकार के अलग-अलग विंग्स की 189 वेबसाइटें हैक हुई हैं.
  • केंद्र और राज्य सरकारों के साथ-साथ कई मंत्रालयों की वेबसाइट हैक हुई है.

वैश्विक मानकों से दूर : भारत की बहुराष्ट्रीय कंपनियां

# Business standard Editorial

देश का निजी कारोबारी जगत जिसे हम इंडिया इंक के नाम से जानते हैं, वह आखिर किस दिशा में बढ़ रहा है? आमतौर पर जारी किए जाने वाले तिमाही नतीजों के आंकड़ों के अलावा आखिर इनके बड़े लक्ष्य क्या हैं? जहां तक संगठनात्मक आकार और ढांचे में तेजी से बदलाव और उसे किफायती बनाने की बात है तो वर्ष 2000 के दशक के आरंभ में आर्थिक सुधारों ने उसे अंजाम दे दिया। तब से अब तक भारतीय उद्योग जगत ने शायद ही कोई बदलावपरक कदम उठाया हो।