सुप्रीम कोर्ट : औद्योगिक इकाईयों में कचरा शोधन संयंत्र जरूरी

- सुप्रीम कोर्ट ने नदियों और तालाबों में दूषित कचरा प्रवाहित करने पर अंकुश लगाने के लिये निर्देश देते हुए राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से कहा कि यदि औद्योगिक इकाईयों में चालू अवस्था में कचरा शोधन संयंत्र नहीं हो तो उन्हें काम करने की अनुमति नही दी जाए। लेकिन इससे पहले औद्योगिक इकाईयों को इस बारे में नोटिस दिया जाए।

प्रदूषण ने लील ली 48 हजार से अधिक जिंदगी

हाल ही में एन्वायरमेंटल साइंस एंड पॉल्यूशन रिसर्च जरनल में आइआइटी मुंबई की एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक वायु प्रदूषण से स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव तो पड़ ही रहा है, मृत्यु दर में भी तेजी से वृद्धि हो रही है। यह रिपोर्ट बताती है कि:

हर मिनट दो भारतीयों की जान लेता है प्रदूषण

विश्व के सबसे प्रदूषित शहरों में से कई भारत में :-

- भारत में दिन-प्रतिदिन हवा में जहर और घुलता जा रहा है। इसका असर इतना खतरनाक हो गया है कि वायु प्रदूषण से हर मिनट में दो भारतीयों की मौत हो जाती है। एक अध्ययन के मुताबिक, विश्व के सबसे प्रदूषित शहरों में से कई भारत में हैं। पीएम 2.5 के स्तर के लिहाज से पटना और नई दिल्ली दुनिया के सबसे प्रदूषित शहर हैं।

नर्मदा घाटी में सरदार सरोवर बांध परियोजना की चपेट में आए तमाम गांवों और वहां रहने वाले लोगों के विस्थापन और उनके मुआवजे का सवाल

#Editorial_jansatta

Why in news:

नर्मदा घाटी में सरदार सरोवर बांध परियोजना की चपेट में आए तमाम गांवों और वहां रहने वाले लोगों के विस्थापन और उनके मुआवजे का सवाल करीब तीन दशक पुराना है। लेकिन सरकारों के अपनी जिम्मेदारी से भागने के चलते यह मामला उलझा रहा है।

जल्लीकट्टू के बचाव में कंहा तक उचित है देसी नस्लों के संरक्षण की दलील

#Business_Standard_Editorials

चेन्नई के मरीना बीच पर बैलों से जुड़े पारंपरिक खेल जल्लीकट्टू पर लगे प्रतिबंध को हटाने को लेकर विरोध प्रदर्शन चला। अब यह शांत हो चुका है|

क्या प्रतीकात्मक रीतियों के साथ हमें बने रहना चाहिए

भारी मात्रा में फैले तेल की वजह से समुद्री जीवों पर संकट

खबरों में

तमिलनाडु के एन्नोर के पास कामराजार समुद्र तट के निकट पिछले दिनों दो मालवाहक जहाजों की टक्कर के बाद तेल रिसाव| एक जलपोत में पेट्रोलियम तेल भरा था और दूसरा एलपीजी गैस उतार कर वापसी के रास्ते में था।

प्रभाव 

वन्यजीवों पर मंडराता संकट

#editorial Jansatta

हाल ही खबरों में

हाल ही में उत्तर प्रदेश के अमेठी में एसटीएफ ने पुलिस व वन विभाग की टीम के साथ मिल कर एक ट्रक से तस्करी के लिए जा रहे 4.40 टन कछुओं को पकड़ा। देश में अब तक कछुओं की तस्करी का यह सबसे बड़ा मामला बताया जा रहा है। बरामद कछुओं की कीमत दो करोड़ से भी अधिक बताई जा रही है। दरअसल, कछुओं की लगभग दो सौ प्रजातियां होती हैं लेकिन हमारे देश में पचपन प्रजातियां ही पाई जाती हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण ही है कि आज वन्यजीवों पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।